Cricket

टी20 वर्ल्ड कप से पहले एरॉन फिंच ने वनडे से लिया संन्यास

ऑस्ट्रेलिया के सीमित ओवर के कप्तान आरोन फिंच वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने का मूड बना चुके हैं। बेन स्टोक्स के बाद एक और प्रमुख क्रिकेट इस फॉर्मेट को अलविदा कहना चाहता है। फिंच न्यूजीलैंड के खिलाफ चल रही मौजूदा सीरीज के अंतिम वनडे मुकाबले के बाद 50 ओवर के क्रिकेट से रिटायर हो जाएंगे। फिलहाल ऑस्ट्रेलिया यह सीरीज पहले ही जीत चुका है और तीसरे मुकाबले में कीवियों का सुपड़ा साफ करने के लिए उतरेगा।

35 साल के फिंच ने 145 वनडे मैच खेले हैं और 54 मैचों में कप्तानी की है। वह अब टी20 टीम की कप्तानी करते रहेंगे। उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था।

फिंच ने एक बयान में कहा, “यह अविस्मरणीय यादों के साथ मेरे लिए एक शानदार यात्रा रही है। मैं भाग्यशाली रहा हूं कि मुझे कुछ शानदार वनडे टीमों का हिस्सा बनने का मौका मिला। मुझे अपने खिलाड़ियों और पर्दे के पीछे काम करने वाले लोगों से काफी समर्थन मिला है।

“अब समय आ गया है कि एक नए लीडर को अगले विश्व कप की तैयारी करने और जीतने का बेस्ट चांस दिया जाए। मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने इस मुकाम तक मेरी यात्रा में मदद और सपोर्ट किया है।”

फिंच 2015 वनडे विश्व कप विजेता ऑस्ट्रेलियाई टीम के सदस्य थे। उन्हें 2020 ऑस्ट्रेलिया वनडे प्लेयर ऑफ द ईयर का पुरस्कार मिला। वनडे करियर में दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने नाबाद 153 के उच्च स्कोर के साथ 5401 वनडे रन बनाए हैं।

फिंच की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया 2019 विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचा था, लेकिन इंग्लैंड से हार गया था। आरोन ने अपने देश के लिए 17 वनडे शतक लगाए हैं और वह रिकी पोंटिंग (29), डेविड वार्नर और मार्क वॉ (18) से पीछे हैं।

इस मौके पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ निक ने कहा, “आरोन बहुत प्रतिभाशाली और दृढ़ निश्चयी खिलाड़ी हैं और बल्ले से उनका शानदार काम उनकी मजबूत और प्रेरणादायक कप्तानी से मेल खाता है। वनडे क्रिकेट से हटने का उनका फैसला दिखाता है कि उनका कोई स्वार्थ नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘मुझे खुशी है कि आरोन आगामी आईसीसी टी20 विश्व कप में ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी करेंगे। उनकी कप्तानी, अनुभव और रणनीतियों की समझ हमारी अपनी घरेलू सरजमीं पर बहुत कीमती होगी, जहां हम टी20 खिताब का बचाव करेंगे। “

Leave a Reply